Home Tips and Tricks How to identify Virus – Virus tips in Hindi

How to identify Virus – Virus tips in Hindi

How to identify Virus - Virus tips in Hindi
ज्यादातर लोगों को पता ही नहीं चलता, कि कब उनके Computer में कोई Virus या स्पाईवेयर आ गया है। स्पाईवेयर एक तरह का Virus है, जो आपके Computer में चुपचाप रहते हुए आपके सीक्रेट डेटा पर नजर रखता है और जरूरी सूचनाओं को अपने निर्माता हैकर्स के पास भेज देता है। आपके Computer में Virus इन्फेक्शन महीनों तक रहता है और Virus या स्पाईवेयर आदि मजे से अपना काम करते रहते हैं। पता तब लगता है, जब Hard Disk क्रैश या डेटा लॉस जैसा कोई बड़ा नुकसान हो जाता है। Virus या स्पाईवेयर इन्फेक्शन को पहचानना बहुत मुश्किल नहीं है। Virus इन्फेक्शन के गंभीर रूप लेने से पहले Computer में उनके संकेत दिखाई देते हैं।

कंप्यूटर धीमा 
Computer बहुत धीमा हो गया है और किसी भी Software को खोलने में ज्यादा समय ले रहा है, तो इसका मतलब है कि Computer की मेमरी और सीपीयू का एक बड़ा हिस्सा Virus या स्पाईवेयर की प्रोसेसिंग में व्यस्त है। ऐसे में कंप्यूटर शुरू होने और इंटरनेट एक्सप्लोरर पर वेब पेज खुलने में देर लगती है। 
ब्राउजर सेटिंग्स में बदलाव 
आपके ब्राउजर का होमपेज अपने आप बदल गया है, तो बहुत संभव है कि आपके Computer में किसी स्पाईवेयर का हमला हो चुका है। होमपेज उस वेबसाइट या वेब पेज को कहते हैं, जो इंटरनेट ब्राउजर को चालू करने पर अपने आप खुल जाता है। आमतौर पर हम Tools मेन्यू में जाकर अपना होमपेज सेट करते हैं, जो अमूमन आपकी पसंदीदा वेबसाइट, सर्च इंजन या ज्यादा इस्तेमाल की जाने वाली सविर्स जैसे ई-मेल आदि होता है। पीसी में घुसा स्पाईवेयर आपको किसी खास वेबसाइट पर ले जाने के लिए इसे बदल देता है। 
कंप्यूटर हेंग 
Computer बार-बार जाम या अचानक हेंग होने लगा है, तो यह इन्फेक्शन के कारण हो सकता है। खासकर तब, जब आपने Computer में कोई नया  Software या हार्डवेयर भी इंस्टॉल न किया हो। 
पॉप अप विंडोज 
इंटरनेट ब्राउजर को चालू करते ही उसमें एक के बाद एक कई तरह की पॉप अप विंडोज खुलने लगती हैं, तो हो सकता है कि इनमें से कुछ में किसी खास चीज या वेबसाइट का विज्ञापन किया गया हो या फिर वे अश्लील वेबसाइट्स के लिंक्स से भरी पड़ी हों। 
चेतावनियां (थेटस) 
स्क्रीन पर ऐसे मेसेज बॉक्स दिखाई देने लगें जिनमें कहा गया हो कि Computer पर Virus या स्पाईवेयर का हमला हो चुका है, साथ ही आपको किसी फ्री स्पाईवेयर स्कैनिंग वेबसाइट पर जाने की सलाह दी जाए। 
अजीब से आइकन 
आपके डेस्कटॉप या सिस्टम ट्रे में अजीब किस्म के आइकन आ गए हों, जबकि आपने ऐसा कोई  Software भी इंस्टॉल नहीं किया है। क्लिक करने पर वे तेजी से अश्लील वेबसाइट्स को खोलना शुरू कर देते हैं। 
अनजाने फोल्डर और फाइलें 
आपके Computer की किसी ड्राइव या डेस्कटॉप पर कुछ ऐसे फोल्डर दिखाई देते हैं जिन्हें आपने नहीं बनाया। उनके अंदर कुछ ऐसी फाइलें भी हैं, जिन्हें न तो आपने बनाया और न ही वे किसी  Software के इंस्टॉलेशन से बनीं। इसके अलावा उन्हें डिलीट करने के बाद भी वे कुछ समय बाद फिर से आ जाती हैं। 
– आपके ई-मेल क्लाइंट के Sent फोल्डर में ऐसे ई-मेल मेसेज दिखाई देते हैं, जिन्हें आपने कभी नहीं भेजा। 
– इंटरनेट ब्राउजर में कुछ -नए टूलबार आ गए हों। आप इन्हें हटाने की कोशिश करते हैं लेकिन वे या तो हटते ही नहीं या फिर कुछ देर बाद फिर आ जाते हैं। 
– Computer शांत है लेकिन Hard Disk में फिर भी घूमने की आवाजें आ रही हों।
ये पोस्ट आपको कैसा लगा, हमें कमेंट कर के बताये ! यदि आपको कंप्यूटर या टेक्नोलॉजी से समन्धित कोई Question  पूछना है तो हमें मेल करे ! हमारी Mail-ID है:-  techtipshindi@gmail.com.

Leave a Reply

Your email address will not be published.