अपने खाना बनाने के हुनर से घर बैठे ऐसे कर सकते हैं कमाई, रोज़ाना होगी आमदनी


होमफूडी ऐप के जरिए आप खुद का मेन्यू, कीमत, ऑर्डर टाइम, ऑर्डर वैल्यूम आदि तय कर सकते हैं.

होमफूडी ऐप के जरिए आप खुद का मेन्यू, कीमत, ऑर्डर टाइम, ऑर्डर वैल्यूम आदि तय कर सकते हैं.

होमफूडी ऐप के जरिए आप खुद का मेन्यू, कीमत, ऑर्डर टाइम, ऑर्डर वैल्यूम आदि तय कर सकते हैं.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 10, 2019, 10:42 AM IST

नई दिल्ली. अगर आप स्वादिष्ट खाना बनाती हैं और आप इससे कुछ कमाई (Income) भी करना चाहती हैं तो यह आपके लिए अच्छी खबर है. दरअसल, नोएडा बेस्ड ई-कॉमर्स स्टार्टअप होमफूडी (Homefoodi) ने होम मेड फूड पर आधारित भारत का पहला मोबाइल ऐप (Mobile App) लॉन्च किया है. इस ऐप से जुड़कर महिलाएं खाना बनाकर कमाई (Income) कर सकती हैं. कंपनी का मकसद लोगों को स्वस्थ और संतुलित भोजन उपलब्ध कराते हुए हेल्दी और फिट इंडिया अभियान को भी समर्थन देना है. साथ ही महिलाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करना है. 100 से अधिक शेफ इस ऐप से जुड़े फिलहाल होमफूडी नोएडा में 100 से अधिक शेफ के साथ दिवाली के दिन लाइव होंगे. इसका लक्ष्य आने वाले वर्षों में 1 लाख शेफ को अपने साथ जोड़ना है. होमफूडी पर रजिस्टर्ड प्रत्येक शेप के पास उनके परिवार से जुड़ी दशकों पुरानी रेसिपी मौजूद है और हर अपनी स्पेशियलिटी के साथ लोगों को पौष्टिक भोजन पेश करेगा. क्या है बिजनेस मॉड्यूल?होमफूडी हरेक शेफ को अपनी एक अलग पहचान बनाने का मौका देगा. साथ ही इसके माध्यम से वे अनगिनत ग्राहक अपने साथ जोड़कर घर से ही कमाने का मौका पा सकेंगे. कंपनी के पास दो मोबाइल एप्लीकेशन हैं. एक शेफ ऐप और एक कस्टमर ऐप. होमफूडी टीम हर घर में जाएगी और खाने की गुणवत्ता, सफाई और उनकी रसोई की जांच करेगी. इसके बाद ही किसी शेफ को होमफूडी प्लेटफॉर्म पर आने का अवसर मिलेगा. कंपनी के सभी होम शेफ 100 फीसदी FSSAI रजिस्टर्ड होंगे. इसके बाद होम शेफ और होमफूडी के बीच एक एग्रीमेंट साइन होता है. इसके तहत होम शेफ को कंपनी को अपनी कमाई का कुछ हिस्सा सर्विस के रुप में देना होता है. हालांकि सर्विस चार्ज कितना होगा, इसके बारे में फिलहाल इसकी कोई जानकारी नहीं दी गई है. ये भी पढ़ें: ट्रेन टिकट बुक कराते वक्त न भूलें 49 पैसे में इस सर्विस को लेना, बुरे वक्त में मिलेगी लाखों की मदद
अपनी मर्जी से करें काम इस ऐप के जरिए आप खुद का मेन्यू, कीमत, ऑर्डर टाइम, ऑर्डर वैल्यूम आदि तय कर सकते हैं. साथ ही आप अपने हिसाब से डिलिवरी या टेकअवे टाइम स्लॉट दे सकते हैं. इसमें एक बहुत यूनीक फीचर है जो आपको आज और आने वाले दिनों के लिए ऑर्डर लेने की आजादी देता है. खाने का पेमेंट ऑनलाइन के साथ कैश भी किया जा सकेगा. होमफूडी के फाउंडर एंड डारेक्टर नरेंद्र सिंह दहिया ने कहा कि हमारा उद्देश्य घर-घर स्टार्टअप है और हम भारत में महिलाओं के लिए स्वरोजगार का सबसे बड़ा अवसर पैदा करना चाहते हैं. होमफूडी एक ऐसी पहल है जो महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देगा और घर की लक्ष्मी अब भारत की लक्ष्मी को चरितार्थ करेगा. वहीं कंपनी की को-फाउंडर मोना दहिया का कहना है कि ग्राहक स्वादिष्ट भोजन तैयार करने वाले होम शेफ्स के माध्य से पसंदीदा व्यंजनों के साथ नाता जोड़ सकते हैं. 9 फीसदी से बढी रही इंडियन फूड सर्विस इंडस्ट्री एक रिपोर्ट के अनुसार इंडियन फूड सर्विस इंडस्ट्री 9 फीसदी की दर से ग्रोथ कर रही है. साल 2018-19 में यह इंडस्ट्री 4.24 लाख करोड़ रुपये की थी, जो साल 2022-23 तक बढ़कर 6 लाख करोड़ रुपये तक होने का अनुमान है. इस इंडस्ट्रीज में 75 लाख से ज्यादा लोगों को रोजगार मिला हुआ है. गूगल प्लेस्टोर से ऐप करें डाउनलोड अगर आप इस कंपनी से जुड़कर कमाई करना चाहती हैं तो आपको सबसे पहले होमफूडी ऐप गूगल प्लेस्टोर से डाउनलोड करना होगा. फिलहाल यह सर्विस सिर्फ नोएडा के सभी शेफ्स के लिए उपलब्ध है. यह एप्लीकेशन अभी एंड्रॉयड पर उपलब्ध है और जल्द ही इसका आईओएश वर्जन लॉन्च किया जाएगा. ये भी पढ़ें: आज से सभी सरकारी बैंक आपके पास आकर हर काम के लिए दे रहे सस्ता लोन







Source link

Previous Post
Next Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *