india impose permanent ban on 59 Chinese apps including TikTok and UC Browser


भारत सरकार ने टिकटॉक समेत 59 चाइनीज एप्स पर स्थायी रूप से बैन लगाने का फैसला किया है। इस संबंध में इलेक्ट्रॉनिक एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeitY) ने इन एप्स को नोटिस जारी कर दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एक अधिकारी ने कहा, ‘सरकार इन कंपनियों द्वारा दी गई प्रतिक्रिया / स्पष्टीकरण से संतुष्ट नहीं है। इसलिए इन 59 ऐप्स पर अब स्थायी प्रतिबंध है।’

बैन किए थे चाइनीज एप्स
बता दें कि चीन के साथ मुठभेड़ के बाद भारत सरकार ने पिछले साल जून में इन चाइनीज एप्स पर बैन लगाया था। भारत ने कहा था कि इन एप्स से देश की संप्रभुता, अखंडता और सुरक्षा को खतरा है। जिन एप्स को बैन किया गया था उनमें बाइटडांस कंपनी का पॉप्युलर वीडियो मेकिंग एप TikTok, अलीबाबा का UC Browser और टेंसेंट का WeChat जैसे एप्स शामिल थें। 

यह भी पढ़ें: इन स्मार्टफोन्स पर काम नहीं करेगा वीडियो कॉलिंग एप Duo, गूगल का फैसला

सरकार ने मांगा था स्पष्टीकरण
जून में बैन किए जाने के बाद सरकार ने इन कंपनियों को ऐप्स को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए प्राइवेसी और सिक्यॉरिटी के मामले में स्पष्टीकरण मांगा था। उन्हें मंत्रालय द्वारा भेजी गए विस्तृत प्रश्नावली का जवाब देने के लिए भी कहा गया था। रिपोर्ट की मानें, तो मंत्रालय को पिछले नोटिस पर एप्स का स्पष्टीकरण संतोषप्रद नहीं लगा, जिस वजह से अब इनपर स्थायी प्रतिबंध लगाने का फैसला किया गया है। 

यह भी पढ़ें: गूगल की Gmail यूजर्स को वॉर्निंग, नए नियम न मानने पर बंद हो जाएंगे खास फीचर
 
पिछले 6 महीने में बैन हुए 208 और एप्स
बता दें कि पिछले छह महीनों में भारत सरकार 208 अन्य चाइनीज एप्स पर बैन लगा चुकी है। सरकार ने 2 सितंबर को 118 चीनी एप्स पर बैन लगाया और इसके बाद नवंबर में 43 एप्स को ब्लॉक किया था। वहीं, टिकटॉक के प्रवक्ता का कहना है कि हम नोटिस का आंकलन करने के बाद इसका जवाब देंगे। भारत सरकार की ओर से 29 जून 2020 को जारी निर्देशों का पालन करने में टिकटॉक पहली कंपनियों में से एक थी। 



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *