know person and ceo of andy jassy who will replace jeff bezos in amazon


पिछले 15 सालों की कड़ी मेहनत और लगन से एमेज़ॉन को ई-कॉमर्स कंपनी (e-commerce Company) से बेहद मुनाफे वाली टेक कंपनी के रूप में बदल देने वाले एंडी जैसी का कमाल यह रहा कि उन्होंने क्लाउड इन्फ्रास्ट्रक्चर मार्केट (Cloud Infrastructure) न केवल बनाया ​बल्कि उस पर वर्चस्व भी हासिल किया. यही वो एंडी जैसी हैं, जो एपल (Apple) और माइक्रोसॉफ्ट के बाद अमेरिका की तीसरी सबसे मूल्यवान कंपनी एमेज़ॉन के सीईओ (CEO of Amazon) की कुर्सी पर काबिज़ होने जा रहे हैं. कंपनी के 27 साल के इतिहास में जैसी दूसरे सीईओ होंगे और वो जेफ बेजोस का उत्तराधिकार संभालेंगे.

53 साल के जैसी बेजोस के बेहद खास उस ग्रुप का हिस्सा रहे हैं, जिसे ‘एस-टीम’ कहा जाता है. एमेज़ॉन वेब सर्विसेज़ जबसे शुरू हुईं, तबसे इसके प्रमुख रहे जैसी को बेज़ोस ने 2016 में AWS का सीईओ घोषित किया था. पिछले साल सितंबर में बेज़ोस ने अपने एक कॉलम में साफ तौर पर लिखा था कि उनकी जगह लेने के मुनासिब हकदार जैसी ही हैं.

ये भी पढ़ें:- आर्मी में जनरल बनाम जनरल विवाद, जानें क्या है कोर्ट ऑफ इंक्वायरी

amazon ceo, amazon market value, amazon shares, amazon shares price, एमेज़ॉन सीईओ, एमेज़ॉन मार्केट वैल्यू, एमेज़ॉन शेयर, एमेज़ॉन शेयर कीमत

एमेज़ॉन के पहले और मौजूदा सीईओ जेफ बेज़ोस.

खास है जैसी की योग्यता?
1990 में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से और 1997 में हार्वर्ड बिज़नेस स्कूल से ग्रैजुएशन करने वाले जैसी शिक्षा के बाद सीधे एमेज़ॉन में पहुंचे थे और उन्होंने कभी इस कंपनी का दामन नहीं छोड़ा. शिक्षा और कंपनी के लिए वफादारी ही नहीं, जैसी की खास योग्यता यह रही कि उन्होंने बाज़ार के हर खिलाड़ी के लिए बिसात बिछाई. चाहे शुरूआती छोटे स्टार्ट अप हों या एपल जैसी स्थापित कंपनी, सबको AWS के प्रोडक्ट्स के घेरे में जैसी ही लेकर आए. बकौल जैसी:

हार्वर्ड में मैंने अपना फाइनल एग्ज़ाम मई 1997 के पहले शुक्रवार को दिया और सोमवार से मैंने एमेज़ॉन के साथ सफर शुरू किया. तब मुझे बिल्कुल नहीं पता था कि मुझे वहां काम क्या करना है और मेरी पोज़ीशन क्या होगी.

दिग्गजों से कैसे आगे निकले जैसी?
साल 2006 में जब AWS की शुरूआत हुई थी, तबसे ही क्लाउड स्टोरेज पर ज़ोर दिया गया था. पहले तो छोटी टेक कंपनियों और डेवलपरों की टीम के साथ इस काम की शुरूआत की गई थी लेकिन देखते ही देखते इस बिज़नेस को जैसी ने बड़े मुनाफे का कारोबार बनाया. स्थिति यह हो गई कि कई कंपनियों ने अपने स्टोरेज बनाए ही नहीं, वो एमेज़ॉन पर ही निर्भर रहीं.

ये भी पढ़ें:- किम जोंग उन और पुतिन की जीवनी है पर जिनपिंग की नहीं, क्यों?

डेटा सेंटर से जुड़ी ज़रूरतों के मामले में जब माइक्रोसॉफ्ट और गूगल ने ज़ोर शोर से इन्वेस्टमेंट किए और क्लाउड प्लेटफॉर्म को लेकर एक जंग छिड़ी, तो जैसी के नेतृत्व में एमेज़ॉन ने काफी बड़ी लीड ​हासिल की. 2020 के बीच के समय में एमेज़ॉन के खाते में दुनिया के क्लाउड इन्फ्रास्ट्रक्चर मार्केट का 33% हिस्सा है. जबकि माइक्रोसॉफ्ट के पास 18% और गूगल के पास 9% है.

ये भी पढ़ें:- सबसे लंबे बजट भाषण… सीतारमण के तीनों स्पीच लिस्ट में हैं, और किसके?

कितना पैसा पाते हैं जैसी?
साल 2019 में एमेज़ॉन ने जैसी को 3,48,809 डॉलर अदा किए यानी करीब 2,54,40,384 रुपये. हैरत की बात यह है कि 2018 में जैसी को 1 करोड़ 90 लाख डॉलर से ज़्यादा की रकम स्टॉक अवॉर्ड के तौर पर मिली थी. कंपनी के ताज़ा प्रॉक्सी स्टेटमेंट के मुताबिक कहा गया है कि जैसी के पास कंपनी के 85,000 शेयर थे जिनकी कीमत 28.7 करोड़ डॉलर से ज़्यादा की है. हालांकि पिछले साल जैसी के पास 1 लाख से शेयर थे.

amazon ceo, amazon market value, amazon shares, amazon shares price, एमेज़ॉन सीईओ, एमेज़ॉन मार्केट वैल्यू, एमेज़ॉन शेयर, एमेज़ॉन शेयर कीमत

एमेज़ॉन की मूल्यवान कंपनी बनकर उभरी वेब सर्विसेज़.

एमेज़ॉन के ताज़ा बयान के मुताबिक चौथे क्वार्टर में AWS का रेवेन्यू 28% उछलकर 12.7 अरब डॉलर का रहा. ऑपरेटिंग इनकम में 37% का इज़ाफा हुआ और यह 3.56 अरब डॉलर तक पहुंच गई, जो कि एमेज़ॉन के कुल ऑपरेटिंग प्रॉफिट का 52% है.

क्या जैसी के सामाजिक सरोकार भी हैं?
टेक्निकल डिटेल्स की गहरी समझ रखने वाले जैसी की छवि कंपनी के भीतर रॉक-स्टार जैसी है. वो सामाजिक मुद्दों पर बहुत कम बात करते हैं. एक बार उन्होंने तब पुलिस की जवाबदेही को लेकर ट्वीट किए थे, जब एक अश्वेत महिला ब्रेओना टेलर को श्वेत पुलिसकर्मियों ने घर में घुसकर मार डाला था. इसके अलावा, जैसी LGBTQ+ अधिकारों के बारे में भी कभी कभी बात करते रहे हैं.

ये भी पढ़ें:- देश की पहली महिला कैबिनेट मंत्री, जिसने लड़ी थी महामारी के खिलाफ जंग

‘जितना समय मैंने एमेज़ॉन को​ दिया है, तकरीबन उतना ही जैसी ने, मुझे विश्वास है कि जैसी बेहतरीन लीडर साबित होंगे.’ बेज़ोस यह कह चुके हैं और आने वाले समय में बेज़ोस की जगह जैसी के आने की घोषणा तब हुई है जब एमेज़ॉन के वर्ल्ड कंज़्यूमर बिज़नेस के सीईओ जेफ वाइल्क को बेज़ोस के उत्तराधिकारी के तौर पर देखा जा रहा था.



Source link

Previous Post
Next Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *