fake link: सावधान! लोगों को कंगाल कर रहा है Whatsapp/SMS पर आया यह फर्जी लिंक, पढ़िए पूरा मामला – do not click on unknown messages otherwise steals your bank details


नई दिल्ली। आज के समय में सभी काम ऑनलाइन होने की वजह से काफी आसान हो गए हैं। मगर टेक्नोलॉजी के इस दौर में जहां ऑनलाइन काम आसान हुए हैं तो अपराधियों को भी अपराध करने का एक नया तरीका मिला है। अक्सर फोन पर SMS या वॉट्सऐप के जरिए मैसेज आते रहते हैं, जिनमें कई तरह के लिंक दिए गए हैं। अगर आप भी ऐसे लिंक पर बिना सोचे समझें क्लिक कर देते हैं, तो अब आपको सावधान हो जाने की जरूरत है।

जी हां इस प्रकार के मैसेज जिनमें डिलीवरी को ट्रैक करने या फिर कुछ डाउनलोड करने के लिए लिंक दिया गया होता है, उन पर क्लिक करने से पहले आपको एक बार उनकी ठीक से जांच करनी चाहिए। थोड़ी सी भी लापरवाही आपके लिए नुकसानदायक साबित हो सकती है।

गजब Google! कंपनी के लिए वरदान बना Work From Home, एक साल में बचा लिए इतने हजार करोड़ रुपए

तेजी से फैल रहा है FluBot नाम का फर्जी मैसेज

  • यूके में पैकेज डिलीवरी ट्रैकर के नाम से तेजी से FluBot नाम का फर्जी मैसेज फैल रहा है। यह फर्जी कंटेंट मैसेज के जरिए आ रहा है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि यह एक डिलीवरी कंपनी से ताल्लुक रखता है।
  • इसमें यूजर्स को पैकेज डिलीवरी को ट्रैक करने के लिए एक लिंक पर क्लिक करने के लिए कहा जा रहा है। इस फर्जी लिंक में यूजर्स को डिलीवरी ट्रैक करने के लिए एक ऐप इंस्टॉल करने के लिए कहा जा रहा है। यह ऐप डिलीवरी ट्रैक नहीं करती है बल्कि एक फर्जी ऐप है जो कि उस एंड्रॉयड स्मार्टफोन से डाटा चुराती है।

इस खबर को पढ़कर Whatsapp छोड़ देंगे आप! क्योंकि Telegram में आ रहा है यह धांसू फीचर

इन देशों के लोग तेजी से शिकार बन रहे हैं
यह फर्जी वायरस यूके, स्पेन, जर्मनी और पोलैंड में तेजी से फैल रही है और यूजर्स को बड़े स्तर पर प्रभावित कर रही है। यूके के नेशनल साइबर सिक्योरिटी सेंटर (NCSC) ने फर्जी ऐप की पहचान के लिए सिक्योरिटी गाइडेंस जारी किया है। वहीं वोडाफोन जैसी नेटवर्क प्रोवाइडर कंपनियों ने इस फर्जी मैसेज से बचने के लिए लोगों को चेतावनी दी है।

बचने के लिए तुरंत करें ये काम

  • NCSC के मुताबिक जो यूजर्स इस फर्जी कंटेंट से प्रभावित हुए हैं तो उन्हें जल्द से जल्द अपने स्मार्टफोन को रीसेट कर देना चाहिए, जिसे आपका डाटा बच सकता है।
  • इसके अलावा यूजर्स को यह भी बताया गया है कि उन्हें अपने डाटा को बचाने के लिए किसी नए अकाउंट में लॉग इन नहीं करना है। इसके अलावा डाटा बचाने के लिए यूजर्स को पासवर्ड भी बदलना देना चाहिए।

मुसीबत में बनिए मददगार! घर बैठे दान कर सकते हैं ऑक्सीजन, बस करना होगा यह काम

ऐसे शिकार बना रहे हैं ठग

  • यूजर्स से मैसेज में एक डिलीवरी कंपनी की ओर से दावा किया जा रहा है कि इस FluBot को डाउनलोड कीजिए। जिसमें यूजर्स से पैकेज डिलीवरी को ट्रैक करने के लिए एक लिंक पर क्लिक करने के लिए कहा जाता है।
  • यह फर्जी लिंक यूजर्स को फेक डिलीवरी को फॉलो करने के लिए एक ऐप इंस्टॉल करने के लिए कहता है। अगर कोई एंड्रॉयड स्मार्टफोन यूजर इस फर्जी लिंक पर क्लिक करता है तो उसे एक वेबसाइट पर रिडायरेक्ट कर दिया जाता है।
  • फिर वह वेबसाइट यूजर्स को APK फाइल को डाउनलोड करने के लिए थर्ड पार्टी साइट पर पहुंचा देती है। यूजर्स को इस प्रकार के अटैक से बचाने के लिए इस प्रकार की फाइल आमतौर पर बाय डिफॉल्ट ब्लॉक होती हैं, लेकिन यह फर्जी वेबसाइट यूजर्स को FluBot डाउनलोड करने के लिए जानकारी देता है। यह फर्जी मैसेज स्मार्टफोन से महत्वपूर्ण डाटा जैसे कि पासवर्ड, बैंकिंग डीटेल और संपर्क सूची को चुराता है।



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *