petrol and diesel demand in india: पेट्रोल और डीजल की बंपर मांग ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, मार्च महीने में हुई देश में इतनी खपत… – petrol and diesel demand recorded the largest increase in march 2021 after december 2019


नई दिल्ली।
मार्च महीने में पेट्रोल और डीजल की मांग में भारी तेजी दर्ज की गई। जारी रिपोर्ट्स के मुताबिक दिसंबर 2019 के बाद यह पहला मौका रहा, जब भारत में पेट्रोल और डीजल की मांग में इतनी जबरदस्त तेजी दर्ज की गई। पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के पेट्रोलियम योजना और विश्लेषण सेल (PPAC) की तरफ से जारी रिपोर्ट में बताया गया कि भारत में मार्च महीने में ईंधन की खपत में 17.9 फीसदी की साल दर साल बढ़ोतरी दर्ज की गई है। बता दें कि मार्च 2021 में 18.8 मिलियन टन ईंधन की भारत में खपत हुई। फरवरी महीने से तुलना करें तो मार्च 2021 में ईंधन की खपत में 8.7 फीसदी की महीना दर महीना की बढ़त दर्ज की गई। बता दें कि फरवरी महीने में ईंधन की मांग में भारी गिरावट दर्ज की गई थी, जो पिछले 5 महीनों में सबसे कम थी।

मार्च महीने में बढ़ी पेट्रोल की बिक्री

मार्च 2020 की तुलना में मार्च 2021 में पेट्रोल या गैसोलीन की बिक्री में 27 फीसदी की साल-दर-साल बढ़ोतरी दर्ज की गई। जबकि, फरवरी 2021 के मुकाबले पेट्रोल की खपत में 11.4 फीसदी की महीना दर महीना बढ़त दर्ज की गई। बता दें कि मार्च 2021 में भारत में 2.74 मिलियन टन गैसोलीन या पेट्रोल की बिक्री हुई।

डीजल की बिक्री में भी आई बढ़ोतरी

मार्च 2020 की तुलना में मार्च 2021 में डीजल की बिक्री में 27.6 फीसदी की भारी साल-दर-साल बढ़ोतरी दर्ज की गई। जबकि, फरवरी 2021 के मुकाबले डीजल की खपत में 10 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई। बता दें कि मार्च 2021 में देश में 7.22 मिलियन टन डीजल की बिक्री हुई। यहां जानना जरूरी है कि भारत की अर्थव्यवस्था पर डीजल की कीमतों का बड़ा असर पड़ता है। भारत में कुल ईंधन का 40 फीसदी हिस्सा डीजल के तौर पर खपत किया जाता है।

LPG की बिक्री में भी आई बढ़ोतरी

मार्च 2020 की तुलना में मार्च 2021 में LPG की बिक्री में 1.3 फीसदी की साल-दर-साल गिरावट दर्ज की गई। मार्च 2021 में भारत में 2.26 मिलियन टन LPG की बिक्री हुई।



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *