pratap bose tata motors: Tata की कारों को Glamorous बनाने वाले प्रताप बोस ने कंपनी को कहा अलविदा, 14 सालों में डिजाइन की ये गाड़ियां – pratap bose resigns as tata motors design head


नई दिल्ली।
टाटा मोटर्स के ग्लोबल डिजाइन हेड प्रताप बोस ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने बेहतर अवसरों का हवाला देते हुए टाटा मोटर्स को अलविदा कहा है। बोस की जगह अब मार्टिन उहलारिक कंपनी के नए ग्लोबल डिजाइन हेड होंगे। अब तक उहलारिक टाटा मोटर्स यूरोपियन तकनीकी केंद्र के डिजाइन प्रमुख रहे हैं। बता दें कि टाटा की कारों को स्टाइलिश और फैंसी लुक देने के पीछे प्रताप बोस का सबसे बड़ा हाथ है।

दरअसल, साल 2000 तक टाटा की कारों को केवल उनके परफॉर्मेंस के लिए पहचाना जाता था, लेकिन लुक के मामले में टाटा की कारें देखने में औसत लगती थीं। हालांकि, उस दौर में भी पुरानी Sierra और Safari जैसी गाड़ियों ने लुक के मामले में भारतीय ग्राहकों का दिल जीत लिया था, लेकिन बाकी कारें देखने में काफी बोरिंग लगती थीं। प्रताप बोस के आने के बाद टाटा की कारों के लुक में जबरदस्त अंतर देखने को मिला। यही कारण है कि Tiago, Harrier, Nexon और Altroz जैसी कारों ने अपने लुक से भारतीय ग्राहकों का दिल जीत लिया।

प्रताप बोस ने अपने Twitter और Linkedin अकाउंट पर एक पोस्ट के जरिए टाटा मोटर्स के साथ अपने सफर के खत्म होने की जानकारी दी। उन्होंने अपने पोस्ट में लिखा, ” टाटा मोटर्स के साथ 14 सालों का सफर शानदार रहा। हालांकि, अब समय आ गया है कि जब कम्फर्ट जोन को छोड़ कर प्रोफेशनल डिजाइन के फेज में नई चुनौतियों का सामना करना होगा।”

प्रताप बोस ने आगे कहा, ” टाटा मोटर्स लिमिटेड में मेरा पहला असाइनमेंट Safari Storme था और यह देखना काफी सुखद है कि अब यह पूरा सर्कल नई Safari के लॉन्च के साथ पूरा हो गया है। Tata Bolt, Zest, Tiago, Tigor, Nexon, HXA, Altroz, Harrier, Safari, HBX, Prima, Signa, Ultra, Intra जैसी गाड़ियों के साथ कॉन्सेप्ट कारें Pixel, Megapixel, Nexon, Racemo, H5X, 45X, H2X, Sierra मेरे लिए बहुत खास हैं।”

उन्होंने अपने पोस्ट में यह भी कहा कि वे भाग्यशाली हैं कि उन्हें रतन टाटा, साइरस पी मिस्त्री और एन चंद्रशेखरन जैसे तीन चेयरमैन के साथ काम करने का मौका मिला।



Source link

Previous Post
Next Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *