galaxy s20 series defective camera glass: कहीं आपके पास तो नहीं है Samsung का यह फोन? अचानक टूट रहा है इसका कैमरा ग्लास, कोर्ट पहुंचा मामला – samsung is being sued over defective camera glass on the galaxy s20 series check details


हाइलाइट्स:

  • सैकड़ों यूजर्स ने कंपनी पर लगाया आरोप
  • अब यह मामला कोर्ट पहुंच चुका है
  • सैमसंग ने वारंटी कवर देने से पल्ला झाड़ा

कैमरा ग्लास टूटने से जुड़े एक मामले ने दिग्गज टेक कंपनी Samsung को कठघरे में खड़ा कर दिया है। दरअसल, सैमसंग पर आरोप हैं कि उसने सभी Galaxy S20 मॉडल्स (जिसमें Ultra और FE मॉडल्स भी शामिल हैं) के कैमरे में खराब ग्लास का इस्तेमाल किया, जो अचानक टूट जाता है।

एक-दो नहीं बल्कि सैकड़ों यूजर्स ने Samsung पर डिफेक्टेड कैमरा ग्लास के साथ फोन बेचने का आरोप लगाया है। कंपनी ने पिछले साल फरवरी में Galaxy S20, Galaxy S20 Plus और Galaxy S20 Ultra को लॉन्च किया, उसके बाद इसमें Fan Edition को जोड़ा था।

गौर करने वाली बात यह है कि अब यह मामला कोर्ट पहुंच चुका है। मुकदमे में कहा गया है कि Galaxy S20 के लिए महंगे दाम वसूलने के बावजूद सैमसंग ने इस खामी को वारंटी के तहत कवर करने से इनकार कर दिया।

कंपनी ने कंज्यूमर-प्रोटेक्शन बिल का उल्लंघन किया
रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह मुकदमा 27 अप्रैल को दायर किया गया था और इसमें सैमसंग पर खराब ग्लास वाले गैलेक्सी S20 फोन बेचकर कई उपभोक्ताओं के साथ धोखाधड़ी, वारंटी भंग करने और कई कंज्यूमर-प्रोटेक्शन कानूनों का उल्लंघन करने का आरोप लगाया गया है।
उपयोगकर्ताओं ने यह भी आरोप लगाया है कि सैमसंग ने वारंटी के तहत समस्या को कवर करने से इनकार कर दिया, भले ही इसके कर्मचारियों को इस दोष के बारे में जानकारी थी। जिन ग्राहकों को यह समस्या हुई है वे अधिकतर अमेरिका के रहने वाले हैं।

ग्लास टूटने पर ‘बुलेट होल’ पैटर्न बन जाता है
रिपोर्ट की मानें, तो सैमसंग के Galaxy S20 स्मार्टफोन के रियर कैमरे का ग्लास बिना किसी बाहरी दवाब और साधारण इस्तेमाल पर ही टूट जाता है। स्मार्टफोन को बैक कवर में सुरक्षित रखे जाने के बावजूद ऐसा कई ग्राहकों के साथ हो चुका है। कैमरा के ग्लास टूटने के बाद इसपर ‘बुलेट होल’ पैटर्न (गोली का निशान) बन जाता है। मुकदमे में कहा गया है कि ग्राहकों को फोन ठीक कराने के लिए $400 और जिन्होंने सैमसंग केयर बीमा लिया हुआ है उन्हें $100 खर्च करने पड़ रहे हैं।

खरीदारों के पक्ष में जा सकता है मामला
यदि मुकदमा आगे बढ़ता है और निर्णय खरीदारों के पक्ष में जाता है तो इन सभी उपयोगकर्ताओं को मुआवजा मिल सकता है। मुआवजा मूल्य के नुकसान और आगे के नुकसान दोनों को कवर कर सकता है। हालांकि, उपयोगकर्ताओं को भारी भुगतान की उम्मीद नहीं करनी चाहिए। इन मामलों में दावों को आमतौर पर वकील की लागत और दावेदारों की संख्या से लचीला किया जाता है। इसकी कोई गारंटी नहीं है कि दावेदारों को रिपेयर को कवर करने जितना मुआवजा मिल जाए।

एपल को पछाड़ कर सबसे बड़ी कंपनी बनी सैमसंग
यदि सही है, तो यह दुनिया की सबसे बड़ी तकनीकी कंपनियों में से एक बहुत ही गैर-जिम्मेदाराना कदम है, लेकिन इसने सैमसंग को अधिक फोन बेचने से नहीं रोका। वास्तव में, सैमसंग ने दुनिया के सबसे बड़े स्मार्टफोन निर्माता के रूप में एपल से ताज वापस ले लिया है।



Source link

Previous Post
Next Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *