whatsapp rolling out end to end encrypted backups feature to beta users – Tech news hindi


WhatsApp यूजर्स की सिक्योरिटी और प्रिवेसी पर बड़ा खतरा मंडरा रहा है। यूजर्स के इस सबसे पंसदीदा इंस्टैंट मेसेजिंग ऐप में एक बड़ी खामी है, जिससे किसी भी यूजर की चैट को साइबर क्रिमिनल्स आसानी से पढ़ सकते हैं। यह सच है कि वॉट्सऐप की चैट एंड-टू-एंड एनक्रिप्टेड होती हैं, लेकिन iCloud या Google Drive पर बैकअप स्टोर होने के बाद इसे पूरी तरह सेफ नहीं माना जा सकता।

जांच एजेंसियां कर सकती हैं ऐक्सेस 
आमतौर पर क्लाउड पर सेव चैट्स को किसी क्राइम की जांच करने के लिए जांच एंजेंसियां सर्च वॉरंट के साथ ऐक्सेस करती हैं। ऐसे में यह माना जा सकता है कि iCloud या गूगल ड्राइव पर सेव वॉट्सऐप चैट को हैकर्स भी आसानी से ऐक्सेस कर सकते हैं। 

यह भी पढ़ें: OnePlus Nord 2 5G आज होगा भारत में लॉन्च, 30000 से कम हो सकती है कीमत, जानिए फीचर्स से जुड़ी सभी डिटेल्स

ऐपल, गूगल के इंतजाम काफी नहीं
ऐपल और गूगल ने अपने यूजर्स की सेफ्टी के लिए जरूरी इंतजाम किए हैं और इनसे यूजर्स की चैट काफी हद तक सेफ हैं, लेकिन इसे पूरी तरह के हैकिंग प्रूफ नहीं कहा जा सकता। वॉट्सऐप इस मामले की गंभीरता को समझ रहा है। WABetaInfo की एक रिपोर्ट के अनुसार वॉट्सऐप आजकल एक ऐसे फीचर पर काम कर रहा है, जिससे चैट्स क्लाउड पर सेव होने से पहले ही एन्क्रिप्ट हो जाएं। 

बीटा वर्जन के साथ रोलआउट हो रहा फीचर 
WABetaInfo के अनुसार वॉट्सऐप के इस नए फीचर का नाम एंड-टू-एंड एन्क्रिप्टेड बैकअप्स है। कंपनी इसे ऐंड्रॉयड बीटा वर्जन 2.21.15.5  के साथ रोलआउट कर रही है। वॉट्सऐप के जिन बीटा यूजर्स तक यह अपडेट पहुंच चुका है, उन्हें अपनी चैट और मीडिया को एन्क्रिप्शन के साथ बैकअप कर सकते हैं। 

यह भी पढ़ें: Amazon Sale में Vivo, Oppo, Xiaomi और Samsung के स्मार्टफोन पर मिल रहा है जबरदस्त डिस्काउंट, TV बिक रहे हैं आधे दाम में

कैसे काम करता है एन्क्रिप्शन?
वॉट्सऐप चैट और मीडिया को एनक्रिप्ट करने के लिए आपको एक पासवर्ड सेट करना होगा। इस पासवर्ड की जरूरत चैट्स के बैकअप को रीस्टोर करने के लिए पड़ेगी। इसके बिना आप अपनी चैट हिस्ट्री को रीस्टोर नहीं कर पाएंगे। यह पासवर्ड प्राइवेट होता है और इसे वॉट्सऐप, गूगल, फेसबुक या ऐपल के साथ शेयर नहीं किया जाता। 





Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *